Ad Code

Ticker

6/recent/ticker-posts

(Apply) Solar Rooftop Scheme | सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता और लाभ

सोलर रूफटॉप योजना 2021 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन @solarrooftop.gov.in


solarrooftop.gov.in online registration in Hindi | Rooftop Solar Power Generation Scheme | Solar Rooftop Application Status | Solar Rooftop Yojana Login


Latest News Update : Free solar panels Government scheme India 
सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना देश में छतों पर सौर पैनलों की स्थापना को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की एक पहल है। सोलर रूफटॉप योजना के लिए आवेदन करने के लिए राज्यवार DISCOM पोर्टल लिंक देख सकते हैं, सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर का उपयोग करके मूल्य की गणना कर सकते हैं।

बिजली की मांग दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है और उपयोग के साथ तुलना करने पर संसाधन पर्याप्त नहीं हैं। आम आदमी के लिए अपने घरेलू उपयोग के लिए भारी बिजली बिल का भुगतान करना मुश्किल हो जाता है। इस समस्या को हल करने के लिए, सरकार सौर ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा के एक अच्छे विकल्प के रूप में सुझाती है। सौर ऊर्जा सूर्य से प्राप्त होती है। सौर ऊर्जा विद्युत ऊर्जा की तुलना में कम खर्चीली है। यह ऊर्जा आपके सभी उद्देश्यों को हल करती है जो बिजली करती है। इस सौर ऊर्जा का उपयोग घरेलू उद्देश्य के साथ-साथ व्यावसायिक उद्देश्य के लिए भी किया जा सकता है। सोलर रूफटॉप सिस्टम को और अधिक उछाल देने के लिए सरकार ने सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना नामक एक योजना शुरू की। यह योजना निश्चित रूप से देश में अक्षय ऊर्जा के रोजगार को प्रोत्साहित करेगी क्योंकि सरकार उपभोक्ताओं को सोलर रूफटॉप इंस्टॉलेशन पर सब्सिडी प्रदान करती है। जैसा कि यह योजना कुछ राज्यों तक सीमित है, लेकिन सरकार Solar Rooftop Yojana को भारत के सभी राज्यों में पेश करती है ताकि लोग सौर ऊर्जा प्रणाली का लाभ उठा सकें और संसाधनों और पर्यावरण दोनों को बचा सकें।

सोलर रूफटॉप योजना ऑनलाइन पंजीकरण, उद्देश्य, पात्रता और लाभ

भारत सरकार के अक्षय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा सोलर रूफटॉप योजना शुरू की गई है। सोलर रूफटॉप सब्सिडी भारत सरकार द्वारा पूरे भारत के लिए शुरू की गई योजना है। Solar Rooftop Yojana के तहत, आपकी छतों पर सोलर पैनल लगाने के लिए सब्सिडी प्रदान की जाती है। इसका लक्ष्य वर्ष 2022 तक रूफटॉप सौर परियोजनाओं से 40,000 मेगावाट की संचयी क्षमता हासिल करना है। इस लेख के माध्यम से, हमने Solar Rooftop Yojana in Hindi में विस्तृत जानकारी साझा की है, इसलिए हमारे लेख को अंत तक पढ़ें और योजना का लाभ उठाएं।

Solar Rooftop Subsidy Scheme देश में सोलर रूफटॉप के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार की एक पहल है। सरकार का लक्ष्य 2022 तक 100 GW सौर ऊर्जा क्षमता हासिल करना है। इसमें से 40 GW ऊर्जा सोलर रूफटॉप सिस्टम से हासिल की जाएगी। लोगों को सोलर रूफटॉप सिस्टम लगाने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए सरकार इसके इंस्टालेशन पर सब्सिडी दे रही है। यह योजना राज्यों में स्थानीय विद्युत वितरण कंपनियों (DISCOMs) द्वारा कार्यान्वित की जा रही है। आप सोलर रूफटॉप योजना के लिए आवेदन करने के लिए राज्यवार DISCOM पोर्टल लिंक देख सकते हैं, सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर का उपयोग करके मूल्य की गणना कर सकते हैं।

सभी आवेदक जो Solar Rooftop Yojana Apply Online करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम “सौर रूफटॉप योजना 2021” के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे जैसे योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन की स्थिति, आवेदन प्रक्रिया और बहुत कुछ।

Solar Rooftop Scheme Details

Name of Scheme

Solar Rooftop Yojana

in Language

सोलर रूफटॉप योजना

Launched by

भारत की केंद्र सरकार

Beneficiaries

भारत के नागरिक

Potal Name

स्पिन - के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल 
सौर फोटोवोल्टिक स्थापना
(ग्रिड-कनेक्टेड रूफटॉप)

Scheme Objective

प्रदूषण कम करते हुए पैसे की बचत

Scheme under

राज्य सरकार

Name of State

अखिल भारतीय

Post Category

योजना

Official Website

solarrooftop.gov.in

महत्वपूर्ण तिथियाँ

Event

Dates

Lunch Dtae

12 दिसंबर 2014

Last Date to Apply Online

महत्वपूर्ण लिंक

Event

Links

Apply Online

Registration | Login

Solar Rooftop Calculator

Solar Rooftop Scheme avaliable in UMANG App

Click Here

Click Here to Download App

DISCOM Portal Links

Click Here

Solar Rooftop Yojana Official Portal

Official Website



सोलर रूफटॉप योजना क्या है ?


Solar Rooftop Yojana Online Application Form PDF Download : 
देश में सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ने राज्य सरकारों के सहयोग से सोलर रूफटॉप योजना शुरू की गई है। केंद्र सरकार सोलर रूफटॉप योजना के माध्यम से देश में अक्षय ऊर्जा के उपयोग को प्रोत्साहित करती है, उपभोक्ताओं को सोलर रूफटॉप इंस्टॉलेशन पर सब्सिडी प्रदान करती है। भारत सरकार ने रूफटॉप सोलर पावर प्लांट योजना को एक महत्वाकांक्षी परियोजना के रूप में लिया है; इसमें पर्यावरण को नुकसान पहुंचाए बिना बिजली की बढ़ती मांगों को पूरा करने की क्षमता है। 

केंद्र सरकार सौर ऊर्जा जैसी अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। 1 किलोवाट का सोलर पैनल लगाने के लिए 10 वर्ग मीटर जगह की जरूरत होती है। सोलर पैनल का लाभ 25 साल तक लिया जा सकता है। इसकी पूरी कीमत 5-6 साल में चुका दी जाती है जिसके बाद 19-20 साल तक फ्री में इसका फायदा उठाया जा सकता है। Solar Rooftop Yojana के तहत सरकार ने वर्ष 2022 तक 1 लाख मेगावाट सौर ऊर्जा प्राप्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया है, जिनमें से 40 हजार मेगावाट रूफटॉप सौर ऊर्जा संयंत्रों के शेल्फ के तहत प्राप्त किया जाना है। लक्ष्य को प्राप्त करने और भारतीय जनता के बीच सौर ऊर्जा संयंत्र के उपयोग को बूट करने के लिए, भारत सरकार ने नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय को शासी निकाय के रूप में रखकर यह विशेष रूफटॉप सौर ऊर्जा संयंत्र सब्सिडी योजना शुरू की है।

Solar Rooftop Yojana

सोलर रूफटॉप सिस्टम क्या है ?


सोलर रूफटॉप सिस्टम के अंदर बिजली उत्पादन वाले सोलर पैनल होते हैं। इस सौर पैनल का उपयोग विभिन्न उपयोगों के लिए ऊर्जा प्राप्त करने के लिए किया जाता है। इस प्रणाली का एक बड़ा लाभ यह है कि यह केवल छोटी जगह लेता है और ऊर्जा पैदा करता है जिसका उपयोग विभिन्न उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है। इन दिनों यह प्रणाली शहरी क्षेत्रों में बहुत लोकप्रिय है। और अधिक से अधिक लोग इस प्रणाली का उपयोग बिजली बचाने और भारी बिजली बिलों से बचने के लिए करने की कोशिश कर रहे हैं। घरों, विनिर्माण, संस्थागत और वाणिज्यिक भवनों में स्थापित सौर छतों का उपयोग भवन में अन्य रहने वालों की ऊर्जा आवश्यकताओं को आंशिक रूप से पूरा करने के लिए किया जा सकता है। यह प्रणाली छत पर स्थापित है इसलिए बिजली पैदा करने के लिए बहुत सारे भूमि क्षेत्र की आवश्यकता होती है। काम को आसान बनाएं क्योंकि उपभोक्ता को ग्रिड पावर पर निर्भर होने की आवश्यकता नहीं है। साथ ही सोलर रूफ टॉप सिस्टम डीजल जनरेटर के उपयोग को कम करता है और इसलिए पर्यावरण को बचाता है। सोलर रूफटॉप सिस्टम व्यावसायिक संगठन के लिए सबसे उपयुक्त है क्योंकि अधिकतम उपयोग समय की अवधि के लिए अधिकतम उत्पादन कर सकता है।

सोलर रूफटॉप सिस्टम की कुल लागत


सौर प्रणाली की स्थापना की दर विद्युत जनरेटर प्रणाली की तुलना में इतनी महंगी नहीं है। यह एक बार का निवेश है जो बिजली के बिल के रूप में भुगतान करने से बहुत सारा पैसा बचाता है। साथ ही इस सोलर सिस्टम की स्थापना के बाद इसे किसी अन्य खर्च की आवश्यकता नहीं है। साथ ही लोग इस योजना का उपयोग करके अपनी बहुत सी नकदी बचा सकते हैं।

ग्रुप हाउसिंग के लिए सोलर रूफटॉप योजना


अपने समूह आवास में सौर ऊर्जा को अपनाएं। प्रदूषण कम करते हुए पैसे की बचत। ग्रुप हाउसिंग के लिए सोलर रूफटॉप योजना की मुख्य विशेषताएं इस प्रकार हैं :
  • अपने समूह आवास में सौर पैनल स्थापित करें और बिजली की लागत को 30 से 50 प्रतिशत तक कम करें।
  • सोलर पैनल से बिजली 25 साल तक मिलेगी और इसके इंस्टालेशन का खर्च 5-6 साल में चुकाया जाएगा। इसके बाद सोलर से बिजली का लाभ अगले 19-20 साल तक मुफ्त मिलेगा।
  • केंद्र सरकार की ओर से 500 किलोवाट तक के सोलर प्लांट लगाने पर 20 फीसदी की सब्सिडी दी जाएगी।
  • सोलर प्लांट खुद लगाएं या रेस्को मॉडल पर लगवाएं (निवेश आपकी जगह डेवलपर द्वारा किया जाएगा)।
  • 1kw सौर ऊर्जा के लिए 10 वर्ग मीटर जगह की आवश्यकता होती है।
  • सोलर प्लांट खुद लगाएं या रेस्को मॉडल पर लगवाएं (निवेश आपकी जगह डेवलपर द्वारा किया जाएगा)।
Solar Rooftop Subsidy Yojana लिए आप बिजली वितरण कंपनी के नजदीकी कार्यालय से संपर्क करें। अधिक जानकारी के लिए https://mnre.gov.in पर जाएं।

सोलर रूफटॉप योजना पर सरकार कितनी सब्सिडी देगी ?


भारत सरकार ने सरकारी, आवासीय, सामाजिक और संस्थागत क्षेत्रों के लिए सोलर रूफटॉप सब्सिडी उपलब्ध कराई है। योजना के तहत सब्सिडी प्राप्त करने के लिए, उपभोक्ताओं को DISCOMs द्वारा अनुमोदन की उचित प्रक्रिया का पालन करते हुए DISCOMs के पैनल में शामिल विक्रेताओं से ही रूफटॉप सोलर प्लांट स्थापित करना चाहिए। इस योजना में विक्रेताओं द्वारा 5 साल का रखरखाव शामिल है।
  • 1- 3KW तक के सोलर रूफटॉप पैनल के लिए सरकार 40% सब्सिडी दे रही है।
  • 2- 10KW तक के सोलर रूफटॉप पैनल के लिए सरकार द्वारा 20% की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

रूफटॉप सोलर पावर प्लांट के बारे में विवरण

 (Specification)

रूफटॉप सोलर पावर प्लांट लगाने के लिए आवश्यक जगह

100 square feet

बिना सब्सिडी के रूफटॉप सोलर पावर प्लांट लगाने की लागत

Rs. 60k to Rs. 70K

30% सब्सिडी कटौती के बाद कितनी राशि का भुगतान करना होगा

Rs. 42K to Rs. 49K

उत्पादन आधारित प्रोत्साहन का लाभ उठाने के लिए उपभोक्ताओं को कितनी बिजली उत्पन्न करने की आवश्यकता है?

1,100 to 1,500 Kwh / Kwp p.a

इस योजना के तहत उपभोक्ता कितना कमा सकते हैं?

About Rs. 2k to 3k per annum



Solar Rooftop Yojana के तहत सरकार द्वारा दिए गए लाभ


सरकार ने देश के कुछ राज्यों के लिए यह योजना शुरू की है। इन राज्यों में सिक्किम, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और लक्षद्वीप सहित कई पूर्वोत्तर राज्य शामिल हैं, सौर प्रणाली की स्थापना पर 70% तक की छूट प्राप्त कर सकते हैं।

यह सब्सिडी घरेलू, औद्योगिक और सामाजिक क्षेत्र यानी अस्पतालों, शैक्षणिक संस्थानों आदि के लिए लागू है। साथ ही वाणिज्यिक क्षेत्र भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इसके लिए केंद्र सरकार 600 करोड़ रुपये का बजट देती है। राष्ट्रीय सौर मिशन (NSM) के तहत 2019-20 तक 5 वर्षों की अवधि में 5,000 करोड़।

इस सौर ऊर्जा प्रणाली का उपयोग करने वालों को केवल 6.50/kWh का भुगतान करना पड़ता है जो कि डीजल जनरेटर और सामान्य बिजली की तुलना में बहुत कम है। प्रति वर्ष लगभग 60 मिलियन टन कार्बन डाइऑक्साइड की कमी के परिणामस्वरूप इस योजना के कार्यान्वयन से मौसम की रक्षा करने में भी मदद मिलती है। तो अंत में यह पर्यावरण और स्वास्थ्य दोनों के लिए सुरक्षित है।

Solar Rooftop Yojana

सोलर रूफटॉप योजना 2021 के उद्देश्य


  • घरों की छतों पर सोलर पैनल लगाकर सौर ऊर्जा उत्पन्न करने के लिए नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ग्रिड से जुड़ी रूफटॉप सोलर योजना (Phase II) लागू कर रहा है।
  • सोलर रूफटॉप सब्सिडी योजना देश में सौर ऊर्जा के उपयोग को प्रोत्साहित करने के लिए भारत सरकार की योजना है।

Solar Rooftop Yojana की विशेषताएं


  • Ministry of New and Renewable Energy (MNRE) ने रूफटॉप सोलर योजना पर एक एडवाइजरी जारी की है।
  • इस योजना के तहत सरकार उपभोक्ताओं को सोलर रूफटॉप लगाने के लिए सब्सिडी की सुविधा भी प्रदान कर रही है।
  • सरकार का लक्ष्य 2022 तक 100 GW सौर ऊर्जा क्षमता हासिल करना है।
  • केंद्र सरकार की इस योजना के माध्यम से देश में अक्षय ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा दिया जा रहा है।
  • अपने ग्रुप हाउसिंग में सोलर पैनल लगवाकर बिजली की लागत को 30 से 50 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है।

सोलर रूफटॉप योजना के लाभ


  • कम बिजली की खपत और उपभोक्ता द्वारा बिजली बिल पर बचत।
  • भूमि के अतिरिक्त टुकड़े की आवश्यकता नहीं, उपलब्ध खाली छत की जगह का उपयोग कर सकते है।
  • पारेषण और वितरण हानियों को कम करता है क्योंकि बिजली की खपत और उत्पादन को ध्वस्त कर दिया जाता है।
  • बेहतर प्रबंधन डिस्कॉम/यूटिलिटी द्वारा दिन के व्यस्ततम भार का उपयोग करता है।
  • कार्बन उत्सर्जन में कमी से ऊर्जा और पारिस्थितिक सुरक्षा दीर्घकालिक होगी।
  • बिजली बिल में राहत, पर्यावरण के अनुकूल बिजली उत्पादन।
  • लगभग 25 वर्षों तक सोलर पैनल का उपयोग करने के लाभ।
  • 5 या 6 वर्षों में भुगतान की जाने वाली योजना लागत।
  • इस नई सब्सिडी योजना के अनुसार, जो लोग छत पर सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने के इच्छुक हैं, वे सरकार की ओर से सब्सिडी के रूप में आवश्यक कुल स्थापना राशि का 20% से 30% प्रतिशत  प्राप्त कर सकते हैं।
  • Solar Rooftop Yojana के तहत 500 kV तक के सोलर रूफटॉप प्लांट लगाने पर 20 प्रतिशत की सब्सिडी मिलती है।
  • जो लोग रूफटॉप सोलर पावर प्लांट को ठीक करने वाले हैं, वे भारत के राष्ट्रीयकृत बैंकों से होम लोन के रूप में या प्राथमिकता क्षेत्र के ऋण ऋण के लेबल के तहत दस लाख रुपये प्राप्त कर सकते हैं।
  • खुद से बिजली पैदा करने के अलावा, उपभोक्ता सरकार द्वारा निर्धारित रेगुलेटेड टैरिफ के साथ अत्यधिक बिजली उत्पादन को बेचकर पैसा कमाने में सक्षम हो सकते हैं।

राज्यों की सूची जहां सोलर रूफटॉप योजना उपलब्ध है


List of States where Solar Rooftop Subsidy Scheme Available
  • अंडमान व नोकोबार द्वीप समूह
  • आंध्र प्रदेश
  • असम
  • बिहार
  • चंडीगढ़
  • गोवा
  • गुजरात
  • हरियाणा
  • हिमाचल प्रदेश
  • जम्मू और कश्मीर
  • झारखंड
  • कर्नाटक

सोलर रूफटॉप योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज


Required Documents for Solar Rooftop Scheme
  • बैंक पासबुक की स्कैन कॉपी
  • नवीनतम बिजली बिल की स्कैन कॉपी
  • चालान की कॉपी
  • आधार कार्ड की आधार स्कैन कॉपी
  • तकनीकी विनिर्देश विवरण सौर पैनल और इनवर्टर
  • सामग्री का बिल
  • साइट तस्वीरें
  • उपयोगकर्ता की पहचान और पते का प्रमाण
  • लाभार्थी की फोटो

सोलर रूफटॉप योजना ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे ?


भारत सरकार की Solar Rooftop Yojana 2022 के तहत जो नागरिक अपने घरों में सोलर पैनल लगाना चाहते हैं, उन्हें योजना के तहत आधिकारिक वेबसाइट solarrooftop.gov.in से ऑनलाइन आवेदन करना होगा। आवेदन के आधार पर उन्हें योजना के तहत सोलर रूफ का लाभ प्रदान किया जाएगा।

MNRE रूफटॉप सोलर पावर प्लांट सब्सिडी योजना का लाभ उठाने के लिए, उपभोक्ताओं को नीचे सूचीबद्ध चरणों का पालन करने की आवश्यकता है :
  1. रूफटॉप सौर ऊर्जा संयंत्र को ठीक करने से पहले, उपभोक्ताओं को बिजली प्रदाताओं से संपर्क करना चाहिए, जहां संबंधित प्राधिकरण के अधिकारी दौरा करेंगे और प्रक्रियाओं और शुल्क के विवरण को विस्तृत करेंगे।
  2. अधिकारी के दौरे के दौरान इच्छुक उपभोक्ता निगरानी के उद्देश्य से अन्य प्रणालियों के साथ छत पर सौर क्षमता पैनल लगाने के लिए अनुमोदन प्राप्त कर सकते हैं।
  3. आवश्यक गर्ड रूफटॉप कनेक्शन के साथ रूफटॉप सोलर पावर प्लांट लगाने के सफल समापन के बाद, उपभोक्ताओं को निरीक्षण करने के लिए बिजली प्रदाताओं से संपर्क करना चाहिए।
बिजली प्रदाताओं के विज़िटिंग अधिकारियों से अनुमोदन प्राप्त करने के बाद, उपभोक्ता सौर ऊर्जा ग्रिड कनेक्शन द्वारा अपनी अत्यधिक उत्पादित बिजली इकाइयों को बेचने के लिए सब्सिडी राशि और साथ ही टैरिफ विवरण प्राप्त करने में सक्षम हो सकते हैं।

सभी योग्य आवेदक जो Solar Rooftop Yojana Online Registration करना चाहते हैं, तो सभी निर्देशों को ध्यान से पढ़ें और ऑनलाइन आवेदन पत्र को लागू करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें :

सोलर रूफटॉप योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया (Solar Rooftop Online Application)


  • स्टेप 1- सोलर रूफटॉप योजना की आधिकारिक वेबसाइट यानी solarrooftop.gov.in पर जाएं।
  • स्टेप 3- फिर स्क्रीन पर लोगों को रूफटॉप सोलर योजना के लिए आवेदन करने में सक्षम बनाने के लिए DISCOM पोर्टल लिंक वाला पृष्ठ दिखाई देगा।
  • स्टेप 4- डिस्कॉम पोर्टल लिंक की यह सूची राज्यवार तरीके से उपलब्ध है।
  • स्टेप 5- सभी आवेदक राज्य बिजली विभाग या बिजली निगम की वेबसाइट खोलने के लिए अपने राज्य के संबंधित लिंक पर क्लिक कर सकते हैं जहां सोलर रूफटॉप ऑनलाइन आवेदन / पंजीकरण फॉर्म उपलब्ध है।

सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर (Solar Rooftop Calculator)


  • स्टेप 1- ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आवेदकों को solarrooftop.gov.in पर जाना होगा
  • स्टेप 2- होमपेज पर, “सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर” लिंक पर क्लिक करें।
  • स्टेप 3- सीधा लिंक – https://solarrooftop.gov.in/rooftop_calculator
  • स्टेप 4- बाद में, सोलर रूफटॉप कैलकुलेटर पेज दिखाई देगा
  • स्टेप 5- यहां आवेदक या तो कुल रूफ टॉप एरिया या सोलर पैनल क्षमता जिसे आप इंस्टॉल करना चाहते हैं या आपका बजट चुन सकते हैं।
फिर राज्य और उपभोक्ता श्रेणी का चयन करें और आपकी औसत बिजली लागत क्या है और फिर सोलर रूफटॉप इंस्टॉलेशन की कीमत की गणना करने के लिए "कैलकुलेट" बटन पर क्लिक करें।

सोलर रूफटॉप योजना लॉगिन करे (solarrooftop .gov.in login)


  • स्टेप 1- Solar Rooftop Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।
  • स्टेप 2- होमपेज पर, Login ऑप्शन पर क्लिक करे
  • स्टेप 3- Login in SPIN पेज स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा।
  • स्टेप 4- अब आवश्यक विवरण (Username, Password, CAPTCHA code) दर्ज करें।
  • स्टेप 5- अब लॉगिन बटन पर क्लिक करें।

Important Guideline Links (Scheme and Amendments PDF) :


सोलर रूफटॉप योजना आवेदन करने के लिए DISCOM पोर्टल लिंक 


Andhra Pradesh

https://onlineapp.apeasternpower.com/ (Eastern Power Distribution Company of AP Ltd)

Assam

http://www.rodalee.com/ (Assam Power Distribution Company Limited)

Bihar

http://solarbihar.bsphcl.co.in/ (North Bihar Power Distribution Company Limited, South Bihar Power Distribution Company Limited)

Chandigarh

https://www.solarchandigarh.com/ (Electricity Department of Chandigarh)

Chhattisgarh

https://cspc.co.in/sp/(X(1)S(i1kmfaiqb3mqc0lsnhfe35ex))/Index.aspx?AspxAutoDetectCookieSupport=1 (CSPDCL)

Gujarat

https://suryagujarat.guvnl.in/ (For Subsidy) [Ahmedabad Electricity Co. Ltd. (Torrent Power Ltd.), Dakshin Gujarat Vij Co.Ltd (DGVCL), Madhya Gujarat VIJ Company Ltd., Paschim Gujarat Vij Co. Limited, Surat Electricity Co. Ltd. (Torrent Power Ltd.), Uttar Gujarat Vij Company Limited], https://srtgeda.gujarat.gov.in/ (Non-Subsidy) [For All Discoms]

Haryana

https://esolarconn.dhbvn.org.in/ (DHBVN), https://solarconnection.uhbvn.org.in/ (UHBVN)

Himachal Pradesh

http://www.rts.himurja.gov.in/Default.aspx (HPSEB Limited)

Jammu and Kashmir

https://jk.ahasolar.in/ (Power Development Dept. of J & K)

Jharkhand

https://suvidha.jbvnl.co.in/login.aspx (Jharkhand State Electricity Board)

Karnataka

http://srtpv.bescom.org/SRTPV/expression_of_interest_soura_gruha.jsp (Bangalore Electricity Supply Company Ltd. (BESCOM))

Kerala

https://wss.kseb.in/selfservices/sbp (Kerala State Electricity Board)

Lakshadweep

http://uwp.lakshadweep.idaminfra.com/ (Electricity Dept. of Lakshadweep)

Madhya Pradesh

http://www.smartbijlee.mpez.co.in/view/net_metering/net_metering_form.php (MP Poorv Kshetra Vidyut Vitran Co), https://rooftop.mpcz.in/uwp_rooftop/home (MPMadhya Kshetra Vidyut Vitran Co. ), https://mpwzservices.mpwin.co.in/mpeb_english/home (MPPaschim Kshetra Vidyut Vitran Co.) 

Maharashtra

https://iss.adanielectricity.com/MUMBAINSC/ (Adani Electricity Mumbai Limited), https://bestundertaking.net/newconnection.aspx (Brihanmumbai Electric Supply & Transport (BEST)), (Maharashtra State Electricity Distribution Co. Ltd), https://cp.tatapower.com:3443/sap/bc/webdynpro/sap/zepcrm_solar_appl?CA_NUMBER=null&sap-client=500# (Tata Power Co. Ltd)

Manipur

https://solar.mspdcl.info/ (Manipur State Power Distribution Company Limited (MSPDCL))

Meghalaya

https://meghsolar.meghalaya.gov.in/ (Meghalaya Power Distribution Corporation Ltd.)

Delhi

http://solarbses.com/# (BSES Rajdhani Power Limited, BSES Yamuna Power Limited), https://www.tatapower-ddl.com/solar-rooftop/register (Tata Power Delhi Distribution Limited)

Odisha

http://portal.tpcentralodisha.com:8080/TpcodlSolarRegistration/ (TPCODL, TP Central Odisha Distribution Ltd.), http://rts.odisha.gov.in/ (TPNODL – TP Northern Odisha Distribution Limited, TPSODL – TP Southern Odisha Distribution Limited, TPWODL – TP Western Odisha Distribution Limited)

Puducherry

https://solarrooftop.py.gov.in/ (Electricity Deptt. of Puducherry)

Punjab

https://distribution.pspcl.in/returns/module.php?to=PSPCLRoofTopSolar (Punjab State Power Corporation Ltd.)

Rajasthan

https://energy.rajasthan.gov.in/content/raj/energy-department/rrecl/en/home.html (Ajmer Vidyut Vitran Nigam Ltd., Jaipur Vidyut Vitran Nigam Ltd., Jodhpur Vidyut Vitran Nigam Ltd.)

Sikkim

https://usrp.sikkim.gov.in/ (Energy & Power Department, Government of Sikkim)

Tamil Nadu

https://www.tnebltd.gov.in/usrp/ (Tamil Nadu Generation and Distribution Company Limited)

Telangana

http://210.212.223.83:7001/J2S/j2s/websiteLoginUsers.action (Northern Power Distribution Company of Telangana Limited), http://117.239.151.19:8080/ (Southern Power Distribution Company of Telangana Limited)

Uttar Pradesh

https://upnedasolarrooftopportal.com/ (Dakshinanchal Vidyut Vitran Nigam Ltd., Kanpur Electric Supply Company Ltd., Madhyanchal Vidyut Vitran Nigam Ltd, Noida Power Company Limited, Pashchimanchal Vidyut Vitran Nigam Ltd., Poorvanchal Vidyut Vitran Nigam Ltd., Torrent Power Limited)

Uttarakhand

https://usrp.upcl.org/ (Uttarakhand Power Corporation Ltd)


सोलर रूफटॉप योजना हेल्पलाइन नंबर


Helpline Number
  • रूफटॉप सोलर योजना टोल फ्री नंबर : 1800-180-3333
  • सोलर रूफटॉप इंस्टॉलेशन के लिए पैनल में शामिल/प्रमाणित एजेंसियों की राज्यवार सूची इस लिंक पर देखी जा सकती है।

Solar Rooftop Yojana पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)


सोलर रूफटॉप योजना के तहत सरकार द्वारा कितनी धनराशि आवंटित की गई है?
केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रीय सौर मिशन (NSM) के तहत पहले ही 5000 करोड़ रुपये आवंटित किए जा चुके हैं।

सोलर रूफटॉप योजना क्या है?
देश में सौर ऊर्जा के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार ने राज्य सरकारों के सहयोग से सोलर रूफटॉप योजना शुरू की है। इसकी स्थापना पर सरकार सब्सिडी प्रदान कर रही है और यह योजना राज्यों में स्थानीय बिजली वितरण कंपनियों (DISCOMs) द्वारा लागू की जा रही है।

Solar Rooftop Yojana के तहत उपभोक्ताओं को बिजली के लिए कितना भुगतान करना होगा?
उपभोक्ता सौर ऊर्जा प्रणाली का उपयोग कर 6.50/किलोवाट घंटा की दर से भुगतान करेंगे।

सोलर रूफटॉप योजना के तहत सरकार द्वारा कितनी सब्सिडी प्रदान की जाएगी?
1- 3KW तक के सोलर रूफटॉप पैनल्स के लिए सरकार 40% सब्सिडी दे रही है। 2- 10KW तक के सोलर रूफटॉप पैनल्स के लिए सरकार की ओर से 20% की सब्सिडी दी जाएगी।

solarrooftop.gov.in toll free number क्या है?
टोल फ्री नंबर 1800-180-3333 है।

Post a Comment

0 Comments