Ad Code

Ticker

6/recent/ticker-posts

(Apply) Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana 2022 | बिहार राज्य फसल सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता और लाभ

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022-23 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन @pacsonline.bih.nic.in


Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Apply | सहकारिता विभाग बिहार फसल बीमा Payment Status | Bihar Fasal Sahayata Yojana Form | बिहार राज्य फसल सहायता योजना List


Latest News Update : 
पूर्व की बाढ़ के कारण किसानों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए किसानों को आकस्मिक फसल सहायता योजना का लाभ दिया जाएगा।

बिहार राज्य के मुख्यमंत्री ने प्राकृतिक आपदाओं की स्थिति में राज्य के किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए "बिहार राज्य फसल सहायता योजना" नामक एक किसान लाभकारी योजना शुरू की, फसल सहायता योजना बिहार के तहत किसान की फसल की मुआवजा राशि राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी। इस योजना में, किसानों को पहले किसी भी प्रकार के प्रीमियम का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है, उन्हें केवल बिहार राज्य फसल सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन पत्र के माध्यम से अपनी फसल का विवरण प्रदान करने की आवश्यकता है। इस लेख के माध्यम से, हमने Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana in Hindi में विस्तृत जानकारी साझा की है, इसलिए हमारे लेख को अंत तक पढ़ें और योजना का लाभ उठाएं।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना ऑनलाइन पंजीकरण, उद्देश्य, पात्रता और लाभ

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana (BRFSY) की शुरुआत बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की है। यह योजना बिहार सरकार की एक पहल है, जिसका उद्देश्य फसल खराब होने की स्थिति में किसानों को प्रोत्साहन देना है। राज्य सरकार बिहार के किसानों की बाढ़, सूखा, प्राकृतिक आपदाओं से फसल के नुकसान के लिए किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करेगी और उन्हें भविष्य में खेती करने के लिए प्रोत्साहित करेगी। यह योजना केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) की जगह लेगी। 

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के तहत, राज्य सरकार 20% फसल को नुकसान होने पर 7500 रुपये प्रति हेक्टेयर और फसल को 20% से अधिक नुकसान होने पर 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर का आर्थिक लाभ बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत दिया जायेगा। लाभ सीधे किसानों के बैंक खातों में स्थानांतरित किया जाएगा। बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए आवेदन करने से पहले किसानों के लिए आधार कार्ड से जुड़ा बैंक खाता होना अनिवार्य है। BRFSY योजना में उन किसानों पर कोई प्रतिबंध नहीं है, जिन्होंने पहले ही राष्ट्रीयकृत बैंकों, सहकारी बैंकों और अन्य ऋण देने वाली संस्थाओं से ऋण ले लिया है। बिहार सरकार अन्य एजेंसियों से पैसा उधार लेने वाले किसानों को भी बीमा लाभ प्रदान करेगा। 

बिहार सरकार फसल सहायता योजना 2021 के लिए co-op.bih.nic.in या pacsonline.bih.nic.in/fsy/ पर ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित कर रही है। इस बीमा योजना पंजीकरण से किसानों को प्राकृतिक आपदाओं के कारण उनकी फसलों को नुकसान होने की स्थिति में वित्तीय सहायता प्राप्त करने में मदद मिलेगी। इच्छुक किसान फसल बीमा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं और अंतिम तिथि से पहले आधिकारिक वेबसाइट पर BRFSY ऑनलाइन आवेदन पत्र 2021 भर सकते हैं। किसानों के लिए अलग-अलग फसलों के लिए आवेदन करने के लिए अलग-अलग तारीखें होंगी, इसलिए उन्हें अंतिम तिथि से पहले सावधानीपूर्वक पंजीकरण और बीमा के लिए आवेदन करना होगा।

सभी आवेदक जो Bihar Fasal Bima Yojana Online Apply करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम “बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022” के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे जैसे योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन की स्थिति, आवेदन प्रक्रिया और बहुत कुछ।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Details

Name of Scheme

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana (BRFSY)

in Hindi

बिहार राज्य फसल सहायता योजना

Name of Department

सहकारिता विभाग

Launched by

बिहार सरकार

Beneficiaries

राज्य के किसान

Major Benefit

राहत कोष : 7500 से 10,000

Scheme Objective

राज्य में किसान की आत्मनिर्भरता बढ़ाने के लिए फसल को नुकसान से बचाने के लिए राज्य में खेती को बढ़ाने के लिए

Scheme under

राज्य सरकार

Name of State

बिहार

Post Category

योजना

Official Website

www.epacs.bih.nic.in

महत्वपूर्ण तिथियाँ

Event

Dates

Starting Date to Apply Online

-

बिहार राज्य फसल सहायता योजना खरीफ 2021 सहकारिता विभाग Last Date

बिहार राज्य फसल सहायता योजना रबी 2021 Last Date

-

-

महत्वपूर्ण लिंक

Event

Links

Apply Online

Registration Login

बिहार राज्य फसल सहायता योजना हेतु कृषकों का ऑनलाइन निबंधन का प्रतिवेदन

Click Here

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Portal

Official Website



बिहार राज्य फसल सहायता योजना क्या है ?


Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Online Application Form PDF Download : कभी-कभी प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों को नुकसान होता है, और किसानों को बुरी तरह से नुकसान होता है, और उन्हें वित्तीय संकट का सामना करना पड़ता है। यह संकट किसानों को उनकी अगली फसल के लिए प्रभावित करेगा, और वे कभी-कभी इसकी खेती नहीं कर सकते। तो इसके लिए बिहार सरकार ने बिहार राज्य फसल सहायता योजना शुरू की। बिहार फसल योजना किसान की फसल को प्राकृतिक आपदाओं जैसे बाढ़, सूखा आदि से बचाती है। फसल खराब होने या कभी-कभी प्राकृतिक आपदाओं से खो जाने पर वित्तीय सहायता मिलेगी।

बिहार ने 2018 में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) की जगह अपने बिहार किसानों के लिए बिहार राज्य फसल सहायता योजना (BRFSY) शुरू की। इस योजना के तहत प्रतिकूल मौसम के कारण फसल खराब होने की स्थिति में सरकार किसानों को राहत प्रदान करेगी। थ्रेशोल्ड उपज दर के आधार पर, राज्य सरकार 7,500 रुपये से 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की क्षतिपूर्ति हर्जाना प्रदान करेगी। इस योजना के तहत यदि प्रति हेक्टेयर 20 प्रतिशत फसल का नुकसान होता है तो 7,500 रुपये की राशि प्राप्त होती है। नुकसान ज्यादा होने पर 10 हजार तक के दावे मिलते हैं, लेकिन अगर किसान के पास 2 हेक्टेयर से ज्यादा जमीन है तो किसी भी तरह का कोई फायदा नहीं होता है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना एक बीमा योजना के बजाय एक लाभ के रूप में योजना है, क्योंकि धनराशि सीधे किसानों के बैंक खाते में स्थानांतरित कर दी जाती गई है। योजना के आधार पर स्थायी रिटर्न वाले किसान उचित वेतन के भुगतान के बाद अधिकारियों के पास आवेदन करेंगे। सार्वजनिक प्राधिकरण यह सुनिश्चित करता है कि 2019 में 3.5 लाख से अधिक किसानों को 260.64 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया।

जो लोग Bihar Fasal Bima Yojana 2022 का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें ऑनलाइन आवेदन करना होगा। गेहूं, चना, मसूर, मक्का, अरहर, सरसों, प्याज, ईख, आलू आदि फसलों के नुकसान की भरपाई के लिए पंजीकरण किया जाता है। इस योजना के लिए किसानों को कोई प्रीमियम देने की जरूरत नहीं है। फसल के नुकसान का आकलन बिहार सरकार करेगी।

इन फसलों की जाएगी भरपाई


  • बिहार सरकार के अनुसार, सभी 38 जिलों के लिए गेहूं और मक्का पंचायत स्तर की फसलें हैं। इन दो फसलों के अलावा मसूर, अरहर, चना, सरसों, लाल, प्याज और आलू जैसी फसलों को भी जिला स्तर पर अधिसूचित किया जाता है।
  • बिहार सरकार के मुताबिक चने की फसल को नुकसान होने पर 17 जिलों को ही मुआवजा मिलेगा। सभी जिलों को मसूर 35 जिले, अरहर 22 जिले, ईख 16 जिले, प्याज14 जिले, आलू 15 जिले और सरसों का मुआवजा मिलेगा।
  • केवल दो हेक्टेयर के लिए ही आर्थिक लाभ दिया जाता है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना (BRFSY) के लाभार्थी कौन है?


निर्दिष्ट फसलों की उपज सीमा की दर के आधार पर सभी किसानों को फसल खराब होने की स्थिति में निश्चित सहायता प्राप्त होगी। यह नई फसल बीमा पॉलिसी निम्नलिखित सहायता प्रदान करती है :
  • जहां प्रभावी उपज थ्रेशोल्ड रेट के 20% से कम हो : राज्य सरकार 20% से कम फसल वाले किसानों को पन्द्रह हजार प्रति 2 हेक्टेयर (7500 रुपये प्रति हेक्टेयर) की सीमा तक मुआवजा देगी।
  • यदि वर्तमान उपज थ्रेशोल्ड उपज के 20% से अधिक है : यदि स्थायी फसल 20% से अधिक रुक जाती है, तो बिहार सरकार किसानों को अधिकतम 2 हेक्टेयर (10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर) के लिए 20,000 हेक्टेयर तक की सहायता प्रदान करेगी। .
  • राज्य के सभी किसान फसल सहायता योजना के लिए आवेदन करने के पात्र हैं और 10,000 रुपये प्रति हेक्टेयर की फसल बीमा योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • जिन किसानों ने पहले ही राष्ट्रीयकृत बैंकों, सहकारी बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों से ऋण लिया है, उन्हें Bihar Fasal Bima Yojana प्रदान की गई है।
  • इसमें राज्य के सभी रैयत और गैर-रैयत किसान शामिल होंगे। बिहार राज्य फसल सहायता योजना, प्रधान मंत्री की फसल बीमा योजना के विकल्प के रूप में कार्य करती है।

मार्च-अप्रैल 2022 को किसानों के खाते में भुगतान किया जाएगा


सरकार द्वारा 15 मार्च 2022 को यह निर्धारित किया जाएगा कि Fasal Sahayata Yojana Bihar के अंतर्गत किसान को कितना मुआवजा प्रदान किया जाएगा। इसके पश्चात मार्च-अप्रैल में DBT के माध्यम से किसानों के खाते में भुगतान किया जाएगा। केवल उन्हीं किसान को मुअफ्ज़ा प्राप्त होगा जिन्होंने निबंधन करा लिया है। इस समय केवल सोयाबीन, धान, मक्का की खेती करने वाले किसानों के ही आवेदन प्राप्त किए जा रहे है। मक्का के लिए पूरा राज्य के किसान आवेदन करवा सकते हैं। लेकिन Soybean की खेती के लिए Khagaria, Begusarai and Samastipur जिले के किसान ही आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा धान के निबंधन के लिए 527 प्रखंडों के किसान पात्र होंगे। भागलपुर जिले के सात प्रखंड के किसान धान के लिए अपात्र है। यह प्रखंड Narayanpur, Navagachia, Bihpur, Ismailpur, Gopalpur, Kharik and Rangrachowk है।

खरीफ मौसम के लिए आरंभ हुई आवेदन प्रक्रिया


फसल सहायता योजना बिहार के अंतर्गत खरीफ मौसम के लिए कृषि विभाग एवं सहकारी विभाग द्वारा तैयारी शुरू कर दी गई है। बिहार सरकार द्वारा आवेदन से लेकर भुगतान को तिथि निर्धारित कर दी गई है। वह सभी किसानों जो Kharif Fasal के लिए इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह कृषि विभाग में निबंधित किसान सहकारी विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर 31 जुलाई 2021 तक आवेदन कर सकते है। Bihar Fasal Bima Yojana के अंतर्गत फसल कटनी का प्रयोग 28 फरवरी 2022 को होगा। इस फसल कटनी के माध्यम से यह तय किया जाएगा कि राज्य के किन किन जिलों के किन-किन प्रखंडों की पंचायत में खरीफ फसल का उत्पादन हुआ है। इस रिपोर्ट को आधिकारिक वेबसाइट पर उपलब्ध करवाया जाएगा। इस रिपोर्ट के माध्यम से यह भी तय किया जाएगा की किसानों को कितना मुआवजा प्रदान किया जाएगा।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2022 के उद्देश्य


  • Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana का मुख्य उद्देश्य लाखों किसानों को लाभान्वित करना और उन्हें आत्मनिर्भर और सशक्त बनाना है।
  • इस योजना के तहत राज्य के किसानों को भी आगे खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।
  • यह योजना प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल के नुकसान की स्थिति में किसानों को वित्तीय प्रोत्साहन के साथ समर्थन देने का प्रयास करती है।

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana की मुख्य विशेषताएं


  • बिहार सरकार की बिहार राज्य फसल सहायता योजना के तहत किसानों को फसलों के नुकसान की भरपाई की जाती है।
  • बिहार फसल बीमा योजना 2022-23 के तहत किसानों को मुआवजा देने के लिए सरकार की राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर की जाएगी।
  • इस योजना के तहत बाढ़, आंधी, ओलावृष्टि और बेमौसम बारिश से होने वाले नुकसान को भी शामिल किया गया है।
  • बीमा कंपनी की भूमिका नहीं, सरकार फसल नुकसान का आकलन कर मुआवजा देती है।
  • किसान को कोई प्रीमियम राशि भी नहीं देनी होती है
  • यह योजना पूरी तरह से बिहार राज्य में कृषक समुदाय के लाभ के लिए है
  • Bihar Crop Insurance Scheme उन किसानों को प्रतिबंधित नहीं करती है जिन्होंने राष्ट्रीयकृत बैंकों, सहकारी बैंकों और अन्य संस्थानों से ऋण लिया है; क्योंकि यह अन्य एजेंसियों के उधारकर्ताओं को भी कवर करता है

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के प्रमुख लाभ


  • कृषि विभाग अलग से इनपुट ग्रांट देता है।
  • इसमें संचित क्षेत्र और असिंचित क्षेत्र के लिए 13500 रुपये प्रति हेक्टेयर शामिल है।
  • कटाई के आधार पर फसल के नुकसान का आकलन कर मुआवजा दिया जाता है।
  • यदि किसी किसान का उत्पादन में नुकसान 20% से कम है, तो उन्हें अधिकतम 2 हेक्टेयर के लिए प्रति हेक्टेयर 7,500 रुपये की राशि प्राप्त होगी।
  • यदि किसी किसान का उत्पादन में नुकसान 20% से अधिक है, तो उसे अधिकतम 2 हेक्टेयर के लिए 10,000 प्रति हेक्टेयर रुपये की राशि के साथ प्रोत्साहन दिया जाएगा। 
  • किसानों को किसी भी प्रीमियम का भुगतान करने से राहत मिलती है, क्योंकि बिहार राज्य फसल सहायता योजना 2021 सहायता के लिए है न कि बीमा के लिए। 
  • वित्तीय सहायता सीधे किसान के खाते में स्थानांतरित की जाएगी, इसलिए बिहार फसल सहायता योजना के तहत आवेदन करने वाले प्रत्येक किसान का किसी भी अधिकृत बैंक में अपना बैंक खाता होना अनिवार्य है।
  • Bihar Fasal Sahayata Yojana पूरी तरह से किसान लाभ के लिए शुरू की गई है और सरकार फसल उत्पादन में किसानों की रुचि बढ़ाना चाहती है।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए पात्रता मानदंड


Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Eligibility
  • आवेदक बिहार राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • केवल वही किसान आवेदन कर सकते हैं जिनके आवेदन प्राकृतिक आपदा, मौसम के कारण खराब हो गए हैं।
  • खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज


Required Document for Bihar Crop Insurance Scheme
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक पासबुक
  • बैंक भी अनिवार्य
  • कृषि भूमि के कागजात
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
बिहार राज्य फसल सहायता योजना के लिए निम्नलिखित दस्तावेजों की स्वप्रमाणित प्रति :

रैयत किसान के लिए :
  • भूमि स्वामित्व प्रमाण पत्र
  • स्व-घोषणा प्रमाण पत्र
गैर-कृषि किसानों के लिए :
  • स्व-घोषणा प्रमाण पत्र

बिहार राज्य फसल सहायता योजना आवश्यक निर्देश :
  • फोटो (50 KB से कम होना चाहिए)
  • पहचान पत्र (भारत के चुनाव आयोग द्वारा मान्यता प्राप्त) 400 KB से कम होना चाहिए और (PDF) के रूप में होना चाहिए
  • बैंक पासबुक की प्रथम पृष्ठ प्रति (400 KB से कम होनी चाहिए और (PDF) फॉर्म में होनी चाहिए
  • आवासीय प्रमाण पत्र (400 KB से कम और (PDF) प्रारूप में होना चाहिए)
रैयतों के लिए :
  • भूमि कब्जा प्रमाण पत्र (1 MB से कम)
  • सेल्फ डिक्लेरेशन सर्टिफिकेट (400 KB से कम) - रैयतों के लिए सेल्फ डिक्लेरेशन फॉर्मेट
गैर रैयतों के लिए :
  • सेल्फ डिक्लेरेशन सर्टिफिकेट (400 KB से कम) - गैर-रैयतों के लिए सेल्फ डिक्लेरेशन फॉर्मेट


बिहार राज्य फसल सहायता योजना ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे ?


Bihar Fasal Sahayata Yojana के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए किसान सीधे http://rcdonline.bih.nic.in/fsy/ या http://epacs.bih.nic.in/fsy/ पर क्लिक कर सकते हैं। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि केवल वे उम्मीदवार जिनके पास आधार संख्या है, वे पंजीकरण करने के लिए "हां" विकल्प पर क्लिक कर सकते हैं। यदि आधार कार्ड उपलब्ध नहीं है, तो ऐसे उम्मीदवार इस योजना के लिए पात्र नहीं हैं।

सभी योग्य आवेदक जो Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Online Registration करना चाहते हैं, तो सभी निर्देशों को ध्यान से पढ़ें और ऑनलाइन आवेदन पत्र को लागू करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें :

बिहार फसल सहायता योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया (Bihar Fasal Sahayata Yojana Application Form)


  • स्टेप 1- बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट यानी www.epacs.bih.nic.in पर जाएं।
  • स्टप 2- होमपेज पर, विकल्प “पंजीकरण” लिंक पर क्लिक करें।
  • स्टेप 3- अब आपके सामने आधार का ऑप्शन दिखाई देगा या नहीं। अगर आपके पास आधार है तो Yes के विकल्प पर क्लिक करें।
  • स्टेप 4- आधार कार्ड के हां के विकल्प पर क्लिक करने के बाद अगला पेज खुलेगा, उस पेज पर आपसे आधार नंबर मांगा जाएगा।
  • स्टेप 5- इसके बाद अपना आधार नंबर भरें और अपना नाम भरें।
इस तरह आपको योजना के तहत आवेदन किया जाएगा।

लॉगइन करने की प्रक्रिया (Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana Login)


  • स्टेप 1- आपको बिहार राज्य फसल सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • स्टेप 2- इसके पश्चात आपको Login के सेक्शन के अंतर्गत मोबाइल नंबर, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • स्टेप 3- अब आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • स्टेप 4- इस प्रकार आप पोर्टल पर लॉगिन कर पाएंगे।

बिहार राज्य फसल निरीक्षण ऐप रबी डाउनलोड करने का स्टेप (Download Bihar Rajya Fasal Nirikshan App Rabi)


Download Bihar Rajya Fasal Nirikshan App Rabi
  • स्टेप 5- आपको इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करना है।
  • स्टेप 6- इस प्रकार आप बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण ऐप रबी डाउनलोड कर सकेंगे।

बिहार राज्य फसल निरीक्षण ऐप खरीफ डाउनलोड करने का स्टेप (Download Bihar Rajya Fasal Nirikshan App Kharif)


Download Bihar Rajya Fasal Nirikshan App Kharif
  • स्टेप 5- आपको इंस्टॉल के बटन पर क्लिक करना है।
  • स्टेप 6- इस प्रकार आप बिहार राज्य फसल सहायता निरीक्षण ऐप रबी डाउनलोड कर सकेंगे।

पात्र ग्राम पंचायतों की सूची देखने की प्रक्रिया (List of Eligible Gram Panchayat)


Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana
  • स्टेप 3- इसके बाद आपको साल, जिले का नाम और ब्लॉक का नाम चुनना होगा।
  • स्टेप 4- इसके बाद आपको व्यू के बटन पर क्लिक करना है।
  • स्टेप 5- पात्र ग्राम पंचायतों की सूची आपके कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

महत्वपूर्ण डाउनलोड : 


BRFSY Registration From Mobile App : 

फसल और मौसम

लिंक 

खरीफ - बुवाई का मौसम अप्रैल से मई (ग्रीष्मकालीन फसल)

Kharif BRFSY App

रबी - बुवाई का मौसम सितंबर से अक्टूबर (सर्दियों की फसल) 

Rabi Season BRFSY app


बिहार राज्य फसल सहायता योजना आवेदन की कुल संख्या जिलेवार सूची :

संख्या.

जिला

कुल आवेदन

1

ARARIA

27855

2

ARWAL

3356

3

AURANGABAD

12451

4

BANKA

24658

5

BEGUSARAI

19959

6

BHAGALPUR

11899

7

BHOJPUR

95089

8

BUXAR

13246

9

DARBHANGA

25723

10

E CHAMPARAN

111426

11

GAYA

30259

12

GOPALGANJ

36894

13

JAMUI

53802

14

JEHANABAD

5447

15

KAIMUR

11509

16

KATIHAR

7565

17

KHAGARIA

12381

18

KISHANGANJ

22071

19

LAKHISARAI

9739

20

MADHEPURA

8947

21

MADHUBANI

41097

22

MUNGER

11880

23

MUZAFFARPUR

46579

24

NALANDA

55807

25

NAWADA

19539

26

PATNA

19530

27

PURNIA

17809

28

ROHTAS

42876

29

SAHARSA

29276

30

SAMASTIPUR

88770

31

SARAN

63422

32

SHEIKHPURA

12125

33

SHEOHAR

15051

34

SITAMARHI

31756

35

SIWAN

35954

36

SUPAUL

24918

37

VAISHALI

20327

38

CHAMPARAN

29535

कुल

1150527


बिहार राज्य फसल सहायता योजना हेल्पलाइन नंबर


Helpline Number 
  • हेल्पलाइन नंबर : (0612)-2200693
  • सहकारिता विभाग की ओर से किसानों की सहायता हेतु : 1800-345-6290
  • ईमेल आईडी : kisanreghelp@gmail.com

पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)


बिहार राज्य फसल सहायता योजना क्या है ?
यह एक किसान लाभार्थी योजना है जो प्राकृतिक आपदाओं जैसे बाढ़, सूखे और अन्य खराब मौसम की स्थिति के कारण फसल के नुकसान की स्थिति में वित्तीय सहायता प्रदान करती है।

बिहार फसल सहायता योजना के तहत कितनी राशि प्रदान की जाती है ?
वास्तविक उत्पादन के 20% नुकसान पर 7500/- प्रति हेक्टेयर

Bihar Rajya Fasal Sahayata Yojana किसने शुरू की ?
बिहार राज्य सरकार

Post a Comment

0 Comments